Home राजस्थान रायसिंहनगर (श्रीगंगानगर) रायसिंहनगर : शहर में चल रहे विकास कार्य में पालिकाध्यक्ष पर बैनामी हिस्सेदारी का आरोप, घर के मंदिर, घर के ही पुजारी, मुख्यमंत्री को भेजी शिकायत

रायसिंहनगर : शहर में चल रहे विकास कार्य में पालिकाध्यक्ष पर बैनामी हिस्सेदारी का आरोप, घर के मंदिर, घर के ही पुजारी, मुख्यमंत्री को भेजी शिकायत

रायसिंहनगर। पालिका चुनाव को अभी करीब 6 माह ही हुए है लेकिन नवनिर्वाचित चैयरमैन रह-रहकर विवादों मंे घिर रहे है। शहर की मुख्य समस्या को छोड़कर केवल विष्णुपथ पर गतिविधियां संचालित करने के आरोप लगातार लग रहे है। वहीं कार्यकाल के शुरूवाती दिनों से ही पार्षद एवं चैयरमैन के बीच पटरी नहीं बैठ रही है। इसको लेकर सत्तापक्ष के पार्षदों का एक धड़ा काफी नाराज दिख रहा है। इसको लेकर सौशल मीडिया में कई पार्षदों के वीडियो भी वायरल हो रहे है। उन्होंने पालिकाध्यक्ष पर अनदेखी का सीधा आरोप लगाया है। वहीं पालिका में पार्षदों के काम नहीं होने से काफी नाराजगी भी देखी जा रही है। इसी को लेकर पूर्व कार्यकाल में महिला पार्षद के प्रतिनिधि एवं सतर्कता समिति में पूर्व सदस्य रह चुके सुरेन्द्र बिश्नोई ने आज प्रदेश के मुख्यमंत्री को पत्र लिखकर गंभीर आरोप लगाते हुए शहर में हो रहे विकास कार्यों की जांच करवाने की मांग रख दी है। बिश्नोई ने पत्र में लिखा कि नगरपालिका क्षेत्र में चल रहे निर्माण कार्य में भारी अनियमितता चल रही है। साथ ही पालिकाध्यक्ष मनीष मौहन कौशल ‘टॉनी’ की इन निर्माण कार्यों में बेनामी हिस्सेदारी है। यानि की घर के मंदिर एवं घर के ही पुजारी…। इस पूरे खेल में पालिका के दो से तीन पार्षद भी शामिल है। जो अपनी दादागिरी के बल पर बिल्कुल ही घटिया निर्माण कर रहे है और प्रशासन भी आंखे मूंद कर चैन की बंशी बजा रहा है। पत्र में आगे लिखा कि क्षेत्र में इन्टरलोकिंग के कार्य में 1 अक्टूबर 2020 की पीसीसी की जा रही है, पैकिंग के नाम पर सीसी में 1ः’8ः12 का मसाला इस्तेमाल किया जा रह है, जिसकी मजबूती मात्र 100-120 है। नियमानुसार यह 300 होनी चाहिये। वहीं 25 पीएस की पुलिया के नजदीक जो कारपेट सड़क बनी है, इसके बराबर में नाली का निर्माण करवाया गया है वह आधा फीट सड़क से ऊंचा है, जिससे सड़क का औचित्य ही समाप्त हो जाता है। रही-सही कसर नाली में घटिया निर्माण से पूरी कर दी। जहां पर बीएसआर की बिल्कुल ही पालना नहीं हुई। जहां-जहां क्रोसिंग का निर्माण किया जा रहा है वहां पर घटिया लोहे के सरिये का इस्तेमाल किया जा रहा है। जबकि इनके बिल भारी लोहे के उठाये जा रहे है। बिश्नोई ने पालिका अध्यक्ष टॉनी पर गंभीर आरोप लगाते हुए आगे लिखा कि अध्यक्ष की मेहरबानी से शहर की कच्ची बस्तियों में अवैध रूप से बेचान होने वाले मकानों में भव्य बहुमंजिला, कॉमर्शियल कॉम्पलैक्स का निर्माण करवाकर पालिका के राजस्व को भारी चूना लगाया जा रहा है। इन सभी प्रकरणों में मुख्यमंत्री, स्वायत्त शासन विभाग, भ्रष्टाचार निरोधक ब्यूरो सहित संभागीय आयुक्त बीकानेर से उच्च स्तर की जांच करवाकर दोषियों के खिलाफ कानूनी कार्यवाही की मांग की गई है।

Load More Related Articles
Load More By OFFICE DESK
Load More In रायसिंहनगर (श्रीगंगानगर)