Home राजस्थान रावलामंडी (श्रीगंगानगर) रावलामंडी : लाश की चिता पर राजनीतिक रोटी सेकने का विधायक पिता पर लगा आरोप, थानाप्रभारी के पक्ष में पहुंचे स्थानीय लोग

रावलामंडी : लाश की चिता पर राजनीतिक रोटी सेकने का विधायक पिता पर लगा आरोप, थानाप्रभारी के पक्ष में पहुंचे स्थानीय लोग

रावलामंडी। 15 मार्च को गायब हुई महिला चावली देवी बावरी का 17 मार्च को 1 एएनएम की रोही में क्षत-विक्षत अवस्था में मिले शव के बाद बावरी समाज में फैले रोष के उपरान्त रावला थाना के सामने दो दिन से चले रहे धरने में उस समय नया मोड़ आ गया, जब विधायक पिता पर वहां पर पहुंचे कांग्रेस, माकपा एवं स्थानीय लोगों ने मृतक की चिता पर राजनीति करने का आरोप लगा दिया। अनूपगढ़ विधानसभा की विधायक संतोष बावरी के पिता एवं पुलिस सेवा से सेवानिवृत्त थानाप्रभारी लूणाराम पर शुक्रवार को स्थानीय लोगों का गुस्सा फूट गया। आप का बता दें कि विधायक पिता ने थानाप्रभारी सुरेन्द्र कुमार पचार को घेरते हुए इस पूरे प्रकरण का रूख एरिया में हो रहे अवैध जिप्सम खनन की तरफ कर दिया। उन्होंने सीधे-सीधे आरोप लगा दिया कि क्षैत्र में कानून व्यवस्था चौपट है। जहां महिला का शव मिला है वहां से कुछ ही दूरी पर अवैध खनन माफिया हथियारों से लेस रहते है। इसलिए यहां के थानाप्रभारी को तुरंत प्रभाव से हटाकर पीड़ित परिवार को न्याय मिलना चाहिये, तब ही शव का अंतिम संस्कार किया जायेगा। बारी-बारी से विधायक पिता द्वारा थानाप्रभारी को घेरने से स्थानीय लोगों में गुस्सा फैल गया। जिसके बाद कल कांग्रेस, माकपा सहित भारी संख्या में स्थानीय लोग थानाप्रभारी के पक्ष में आकर खड़े हो गये। वहां पर मौजूद स्थानीय लोगों ने विधायक पिता लूणाराम पर आरोप लगाते हुए कहा कि जब आप पुलिस में थे तो भ्रष्टाचार नहीं था क्या ? वहां पर मौजूद एक शख्स ने सीधा आरोप लगाते हुए कहा कि मैंने आपको रिश्वत के 3 हजार रूपये दिये है। सौ चुहे मारकर बिल्ली हज करने चली है। वहीं माकपा नेता विष्णु भांभू ने कहा कि पीड़ित को न्याय मिले हम इसके पक्ष में है। लेकिन बिना वजह थानाप्रभारी को घेर कर उसे हटाने की मांग कर राजनीतिक रोटियां सेकने वालों को यहां फटकने तक नहीं देंगे। वहीं विधायक पिता का विरोध भाजपा के पूर्व विधायक शिमलादेवी बावरी ने भी कर दिया। उन्होंने कहा कि समाज एवं पीड़ित परिवार को गुमराह कर राजनीति नहीं करनी चाहिये। पीड़ित को न्याय मिलेगा, लेकिन शव की दुर्गति कर मृतक का अपमान किया जा रहा है, यह कहां तक न्यायोचित है। वहीं विधायक पिता द्वारा एक घटना को लेकर बिश्नोई समाज का नाम घसीटने पर रावला बिश्नोई मंदिर की सभा समिति के पूर्व प्रधान बंशीलाल गोदारा ने कहा कि पीड़ित को न्याय मिले, यह हमारी एवं बिश्नोई समाज की मांग है। लेकिन किसी व्यक्ति द्वारा राजनीति करने के लिए बिश्नोई समाज का नाम नहीं घसीटना चाहिये। जिस गाड़ी तोड़ने का जिक्र किया जा रहा है, वह व्यक्तिगत मामला है। उसको बिश्नोई समाज से नहीं जोड़ना चाहिये। वहीं कांग्रेस नेता एवं रावलामंडी सरपंच गंगाबिशन पूनियां, कांग्रेस नेता सुभाष जाखड़ सहित अन्य लोगों ने कहा कि यदि पुलिस विभाग बिना जांच के स्थानीय थानाप्रभारी को हटाने का काम करते है, तो विरोध प्रदर्शन किया जायेगा। पीड़ित को न्याय मिले यह हमारी भी मांग है, लेकिन किसी की मौत पर राजनीति करेंगे तो बर्दास्त नहीं होगा।
यह है पूरा मामला
आप को बता दे कि चावली देवी पत्नि चन्दूराम बावरी 15 मार्च को अपने पुत्र के साथ 9 पीएसडी गांव में अपनी ननद से मिलने के लिए आई थी। पुत्र भीमसेन के अनुसार वह अपनी मां को छोड़कर वापिस चला गया। लेकिन इसके बाद चावली देवी घर नहीं पहुंची। जिसके बाद 16 मार्च को स्थानीय थाना में गुमशुदगी दर्ज करवा दी। 17 मार्च को पुलिस को सूचना मिली कि 1 एएनएम की रोही में एक महिला का क्षत-विक्षत शव पड़ा है। जिसके बाद पुलिस ने मौके पर पहुंचकर शव को कब्जे में लेकर सरकारी हॉस्पीटल की मोर्चरी में रखवाया। महिला की संदिग्ध मौत को लेकर पीड़ित परिवार ने न्याय की गुहार लगाई। जिसके बाद बावरी समाज ने आरोपी को गिरफ्तार करने की मांग के साथ ही शव को लेकर धरना लगा दिया। मामले ने तूल पकड़ा तो स्थानीय विधायक संतोष बावरी के पिता भी विरोध प्रदर्शन में उतर गये। विधायक पिता द्वारा जब स्थानीय थानाप्रभारी को हटाने की मांग की गई तो स्थानीय लोगों ने इसका विरोध कर दिया। उन्होंने कहा कि बिना किसी कारण के थानाप्रभारी को नहीं हटाया जाना चाहिये। किसी भी राजनीतिक प्रभाव रखने वाले व्यक्ति को यहां आकर अपनी व्यक्तिगत रंजिश नहीं निकालने देंगे। शुक्रवार को मौके पर अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक बी.एल. मीणा, घड़साना उपखण्ड अधिकारी संदीप काक्कड़, अनूपगढ़ पुलिस अधीक्षक पीड़ित परिवार को समझाईश करते रहे। लेकिन देर रात तक पुलिस एवं धरणार्थियों के बीच किसी भी स्तर की वार्ता सिरे नहीं चढ़ पाई।

Load More Related Articles
Load More By OFFICE DESK
Load More In रावलामंडी (श्रीगंगानगर)