Home राजस्थान रायसिंहनगर (श्रीगंगानगर) रायसिंहनगर : बगावती सुर एवं चुनावी तलब से पार्टियों में बागी उम्मीद्वारों की संख्या बढ़ने का खौफ, नहीं हुई अब तक टिकटें तय

रायसिंहनगर : बगावती सुर एवं चुनावी तलब से पार्टियों में बागी उम्मीद्वारों की संख्या बढ़ने का खौफ, नहीं हुई अब तक टिकटें तय

रायसिंहनगर। रायसिंहनगर के पालिका चुनावों में चुनावी तलब एवं बगावती सुर ने कांग्रेस एवं बीजेपी दोनों ही पार्टियों में खलबली मचा रखी है। भाजपा में जहां विधायक गुट से ‘निहाल चौपड़ अभियान’ से जुड़े लोगों का विरोध है तो वहीं तीन भागों में बंटी कांग्रेस का तो अब तक पर्यवेक्षक ही नहीं पहुंचा है। सूत्रों से जानकारी मिली है कि कांग्रेस पर्यवेक्षकों क्षेत्र में विरोध को देखते हुए बैठक भी सूरतगढ़ में आयोजित कर रहे है। जहां से पार्टी के लिए कोई शुभ समाचार नहीं मिल रहे है। वहीं सोहन या फिर सोनादेवी दोनों के समर्थकों में आपसी मतभेद के चलते कांग्रेस टिकट को लेकर कोई विशेष उत्साह नहीं है। वहीं दूसरी पायलट प्रोजेक्ट के तहत विधानसभा में उतारी गई जमींदारा पार्टी से कांग्रेस में सम्मिलित पूर्व विधायक सोनादेवी बावरी भी स्थानीय कांग्रेस कार्यकर्त्ताओं के अब तक भी गले नहीं उतर रही है। इससे पूर्व भी पालिका के उप-चुनाव में भी पूर्व विधायक बावरी का कोई खास प्रर्दशन नहीं रहा। पार्षद के उप चुनाव में कांग्रेस को करारी हार मिली थी। वहीं विजयनगर एवं रायसिंहनगर में कांग्रेस की हर बैठक में बावरी का विरोध देखा जा रहा है। दूसरी और भाजपा में भी स्थिति ज्यादा ठीक नहीं है। लेकिन भाजपा को सबसे बड़ा ये फायदा है कि कार्यकर्त्ता में केवल ‘निहाल चौपड़ो अभियान’ में शामिल लोगों का विरोध देखा जा रहा है। इसके अलावा पालिका की 5 से 7 सीटों को छोड़ दिया जाये तो शेष पर सभी की बराबर सहमति देखी जा रही है।
टिकट में देरी से प्रत्याशियों ने भरा डबल नामाकंन
वहीं अबकी बार प्रत्याशी भी ज्यादा स्याणा नजर आ रहा है। भाजपा एवं कांग्रेस में बगावती सुर को देखते हुए टिकटों में देरी का कारण माना जा रहा है, इसलिए ज्यादात्तर प्रत्याशी टिकट नहीं मिलने पर बगावत कर निर्दलय ही चुनाव मैदान में उतरने की फिराक में है। जिसके चलते लगभग प्रत्याशी ने पार्टी एवं निर्दलय के रूप में अपना नामाकंन दिया है। वहीं कल नामाकंन करने की अंतिम तारीख है, उम्मीद जताई जा रही है कि भाजपा की लिस्ट आ शाम तक फाईनल हो सकती है, वहीं कांग्रेस की सूची कब तक आयेगी इस पर कोई कांग्रेस पदाधिकारी बोलने के लिए तैयार नहीं है।

Load More Related Articles
Load More By OFFICE DESK
Load More In रायसिंहनगर (श्रीगंगानगर)